May 14, 2018

कर्मचारियों - सातवें वेतनमान पर 2% और छठवें पर 3% डीए

चुनावी साल में कर्मचारियों, पेंशनर्स, अध्यापक और पंचायत सचिवों को साधने जा रही है। प्रदेश में इन सभी संवर्गों की संख्या 10 लाख से ज्यादा है। मंगलवार को हुई कैबिनेट की बैठक में प्रदेश में सातवां वेतनमान पा रहे कर्मचारियों को 1 जनवरी 2018 से 2 प्रतिशत और छठवां वेतनमान वालों को 3 प्रतिशत महंगाई भत्ता (डीए) दिए जाने को मंजूरी दे दी। इस भुगतान से हर साल 700 करोड़ रुपए का अतिरिक्त खर्च आएगा। बढ़े हुए डीए से कर्मचारियों को हर महीने न्यूनतम 350 से 1200 रुपए और अफसरों को 1600 से 2900 रुपए तक का फायदा होगा।

कैबिनेट के फैसले के बाद इस प्रस्ताव को सहमति के लिए छत्तीसगढ़ सरकार को भेजा जाएगा, जहां से अनुमति प्राप्त होते ही अगले माह यानी मई पेड टू जून के वेतन में इसका फायदा मिलने लगेगा। कर्मचारियों को 1 जनवरी से 30 अप्रैल 2018 तक यानी चार महीने के बढ़े हुए एरियर का भी एकमुश्त भुगतान किया जाएगा।
कर्मचारियों को न्यूनतम 350 से 1200 रुपए तक और अफसरों को 1600 से 2900 रुपए का हर माह फायदा मिलेगा

इनका डीए 5 से बढ़कर 7 फीसदी हुआ


कैबिनेट के दो फीसदी डीए बढ़ाए जाने के फैसले से सातवां वेतनमान पा रहे 4 लाख 35 हजार शासकीय कर्मचारियों का महंगाई भत्ता 5 से बढ़कर 7 प्रतिशत हो गया है। वहीं, 1 जनवरी 2016 के बाद रिटायर हुए 20 हजार पेंशनर्स को भी समान रूप से बढ़ी हुई महंगाई राहत का फायदा मिलेगा।
इनका डीए (तीन फीसदी का फायदा) 139 से बढ़कर 142 प्रतिशत हुआ

प्रदेश में फिलहाल बड़ी संख्या में संवर्गों को छठवां वेतनमान मिल रहा है, इनमें 1.75 लाख अध्यापक, 25 हजार पंचायत सचिव और 1 जनवरी 2016 के पहले रिटायर हुए 4 लाख 60 हजार पेंशनर्स हैं। इन्हें अभी 139 प्रतिशत डीए मिल रहा है। तीन प्रतिशत डीए की बढ़ोतरी के बाद यह 142 फीसदी हो जाएगा।दो फीसदी डीए जुड़ने पर अतिरिक्त फायदा
वेतनमान फायदा
16100 से 28700 रुपए 350 से 570 रुपए
32800 से 67300 रुपए 700 से 1200 रुपए
79900 से 141800 रुपए 800 से 2900 रुपए