May 24, 2017

आखिर क्यों भड़का सीनियर डीसीएम का गुस्सा

इटारसी. जबलपुर जोन के चीफ कमर्शियल मैनेजर एमपी मेहता राजकोट एक्सप्रेस से इटारसी आए। वे पारिवारिक टूर पर निकले थे। सीसीएम के इटारसी आगमन की सूचना पर उन्हें अटेंड करने भोपाल से सीनियर डीसीएम विनोद तिमोरी भी पहुंचे। सीसीएम तो अपने कोच में ही बैठे रहे, वहीं सीनियर डीसीएम ने प्लेटफॉर्म नंबर 1 के साथ ही बाहर का निरीक्षण कर आवश्यक निर्देश जारी किए।

डस्टबिन होंगे फिक्स
प्लेटफॉर्म नंबर एक पर मुंबई छोर पर निरीक्षण के दौरान ही उन्होंने खानपान स्टॉलों के पास रखे प्लास्टिक के डस्टबिनों की जगह स्थाई डस्टबिन रखवाने के निर्देश अधिकारियों को दिए ताकि धक्का लगने की स्थिति में डस्टबिन की गंदगी प्लेटफॉर्म पर ना गिरे। उन्होंने यह काम जल्द से जल्द कराने के निर्देश दिए।

बस चालक को फटकारा
सीनियर डीसीएम की सर्कुलेटिंग एरिया में निरीक्षण के दौरान पार्किंग एरिया में खड़ी बस पर नजर पड़ी तो उन्होंने तत्काल ही आरपीएफ को भेजकर बस चालक को बुलवाया। सीनियर डीसीएम ने स्टेशन परिसर में बस लाने को लेकर ड्राइवर को जमकर फटकारा। ड्राइवर ने दूसरे शहर का होने का हवाला दिया और माफी मांगी तो उन्होंने बस को वहां से बाहर ले जाने दिया।

पार्किंग में बदलाव की योजना
सीनियर डीसीएम ने अनारक्षित टिकट काउंटर के सामने वाले एरिया में वाहनों और ऑटो की बेतरतीब पार्किंग पर खासी नाराजी जताई। उन्होंने कहा कि काउंटर के सामने का यह एरिया पूरा साफ चाहिए। उन्होंने स्टाफ को निर्देशित किया कि इस क्षेत्र का एक पार्किंग प्लान बनाकर भेजा जाए ताकि अनारक्षित टिकट काउंटर के सामने वाहन खड़े होने से रोकें जा सकें। उन्होंने शंकर मंदिर के सामने के पूरे हिस्से में पार्किंग बनाने के संबंध में भी चर्चा क

Patrika